Homeopathy for amelioration symptoms

homeopathic medicines for amelioration symptoms

अंगों द्वारा किसी चीज को घुमाने से सुधार होता है – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

अंधेरे कमरे से कम हुआ सिरदर्द – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अजनबियों की उपस्थिति में सुधार – THUJA OCCIDENTALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अपचनीय चीजों से सुधार – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

अम्लों द्वारा सुधार – PTELEA TRIFOLIATA (PTELEA) 30C ( दिन में तीन बार )

लेटने और बाँहों को दूर-दूर तक फैलाकर रखने से अस्थमा में आराम मिलता है – PSORINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

आँखों को दबाने से सिरदर्द ठीक हो जाता है – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

आंखें बंद करने से ठीक हो जाती है मिचली – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

निगलने में कठिनाई आगे झुकने से ठीक हो जाती है – NITRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

आधा बैठने से डिस्पेनिया ठीक हो जाता है – SPIGELIA ANTHELMIA (SPIGELIA) 30C ( दिन में तीन बार )

आलू से सुधार – ACETICUM ACIDUM (ACETIC ACID) 30C ( दिन में तीन बार )

उंगलियों के नाखूनों के नीचे जलन महसूस करना, उन्हें काटने से ही ठीक हो जाता है – AMMONIUM BROMATUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

उत्तेजकों द्वारा कम की गई कमजोरी – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

उत्सर्जन से कम हुआ पीठ दर्द – ZINCUM METALLICUM (ZINC) 6C (दिन में तीन बार)

खाने से पेट का दर्द दूर होता है – BOVISTA LYCOPERDON (BOVISTA) 6C (दिन में तीन बार)

ब्रेकफास्ट से ठीक होने वाली मिचली – ALUMINA 30C ( दिन में तीन बार )

उपवास करने से बेहोशी ठीक हो जाती है – ALUMINA SILICATA 200C ( हफ्ते में एक बार )

उल्टी से ठीक हुई जी मिचलाना – PHYTOLACCA DECANDRA (PHYTOLACCA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अत्यधिक पेशाब से चक्कर आना ठीक हो जाता है – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

एनजाइना पेक्टोरिस खड़े होने से ठीक हो जाता है – ARSENICUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

वर्टिगो एपिस्टेक्सिस द्वारा ठीक किया गया – BROMIUM (BROMUM) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

अम्लीय खाद्य पदार्थों से ठीक होने वाला दस्त – ARGENTUM NITRICUM 30C ( दिन में तीन बार )

कंधों को ऊंचा करके पीठ के बल लेटने से डिस्पेनिया ठीक हो जाता है – CACTUS GRANDIFLORUS (SELENICEREUS SPINULOSUS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अंगों को ऊपर खींचकर, पेट पर जांघ को फ्लेक्स करने से कटिस्नायुशूल बेहतर होता है – GNAPHALIUM POLYCEPHALUM (GNAPHALIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

कब्ज़ होने पर अच्छा लगता है – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA

कम नींद से कम हो गया सिरदर्द – SKATOLUM (SKATOL) 6C (दिन में तीन बार)

कस्तूरी द्वारा सुधार – LACHESIS MUTUS (LACHESIS) 30C ( दिन में तीन बार )

कान के मैल को हटाने से बहरेपन में सुधार होता है – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

संगीत से सुहाना कानों में गर्जना – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

किसी चीज को धारण करने से सांस की तकलीफ ठीक हो जाती है – GRAPHITES 30C ( दिन में तीन बार )

किसी भी चीज को पकड़कर सुधारना – ANACARDIUM ORIENTALE (ANACARDIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

किसी सख्त चीज को काटना चाहता है जो दांतों के दौरान दर्द से राहत दिलाती है – PHYTOLACCA DECANDRA (PHYTOLACCA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

कुर्सी पर पैर रखकर सुधार – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

केवल घुटनों पर और सिर को फर्श से दबाकर पेशाब कर सकते हैं – PAREIRA BRAVA (CHONDRODENDRON TOMENTOSUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

वर्टिगो कॉफी से ठीक हो जाता है – CANNABIS INDICA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पेट में दर्द कॉफी से ठीक हो जाता है – COLOCYNTHIS 30C ( दिन में तीन बार )

त्वचा की तीव्र खुजली कोमल रगड़ने से ठीक हो जाती है – CROTON TIGLIUM 30C ( दिन में तीन बार )

Coryza सामान्य लक्षणों में सुधार करता है – THUJA OCCIDENTALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

आंखों में खुजली ठंड लगाने से ठीक हो जाती है – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

कोल्ड ड्रिंक मासिक धर्म के दर्द से राहत दिलाती है – KREOSOTUM 30C ( दिन में तीन बार )

पेट में दर्द कोल्ड ड्रिंक्स से ठीक हो जाता है – ELAPS CORALLINUS 30C ( दिन में तीन बार )

कोल्ड ड्रिंक्स और आइसक्रीम से गैस्ट्राल्जिया में सुधार – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

खड़े होकर नहीं बल्कि चलते-फिरते यूरिन बहेगा – MAGNESIUM MURIATICUM (MAGNESIA MURIATICA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

खड़े होने पर मल बेहतर तरीके से गुजरता है – CAUSTICUM 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

खुजलाने से सिरदर्द ठीक हो जाता है – MANGANUM ACETICUM 30C ( दिन में तीन बार )

घोरपन खांसने से ठीक हो जाता है – STANNUM METALLICUM (STANNUM) 30C ( दिन में तीन बार )

खांसी के हिंसक हमले जिन्हें इच्छाशक्ति के प्रयास से दबाया जा सकता है – AGARICUS MUSCARIUS (AGARICUS MUSCARIUS

खाँसी से सुधार – APIS MELLIFICA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

डकार से ठीक हुई खांसी – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

चीनी से ठीक हो जाती है खांसी – SULPHUR 200C ( हफ्ते में एक बार )

हाथ-पांव में दर्द खाने से ठीक हो जाता है – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

खाने से ठीक हो जाता है कान का दर्द – MAGNESIUM CARBONICUM (MAGNESIA CARBONICA) 30C ( दिन में तीन बार )

खाने से प्रलाप ठीक हो जाता है – ANACARDIUM ORIENTALE (ANACARDIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

खाने से ठीक हो जाती है मिचली – ANACARDIUM ORIENTALE (ANACARDIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

खाली निगलने से खांसी ठीक हो जाती है – BELLADONNA 30C ( दिन में तीन बार )

खुली हवा में धूम्रपान करने से भ्रम बेहतर – ARANEA DIADEMA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

ग्लाइडिंग मोशन द्वारा सुधार – NITRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

गर्भावस्था के शुरुआती महीनों में केवल पेट के बल लेट सकते हैं – PODOPHYLLINUM (PODOPHYLLUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्म दूध से सुधार – CROTON TIGLIUM 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म पानी से ठीक होने वाला एंजाइनल दर्द – SPIGELIA ANTHELMIA (SPIGELIA) 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म पेय से बुखार कम होता है – ARSENICUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म पानी से नहाने से खुजली ठीक हो जाती है – RHUS TOXICODENDRON 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म हवा से राहत – THUJA OCCIDENTALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्मी की अत्यधिक गर्मी या सर्दी की ठंड से कम प्रभावित – FLUORICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

गलत गति से सुधार – AMMONIUM MURIATICUM 6C (दिन में तीन बार)

गहरी सांस लेने से पेट में डूबना ठीक हो जाता है – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

लीवर में सिलाई का दर्द गहरी सांस लेने से दूर होता है – OXALICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

गालों को रगड़ने से दांत का दर्द ठीक हो जाता है – MERCURIUS SOLUBILIS (MERCURIUS

गीली उंगली से ठीक हो जाता है दांत दर्द – CHAMOMILLA 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गुदा में जलन को ठंडे पानी से अस्थायी रूप से राहत मिलती है – RATANHIA PERUVIANA (RATANHIA) 6C (दिन में तीन बार)

घर में चिंता कम हुई – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

पेट के बल घुटने के बल लेटने से शूल ठीक हो जाता है – STANNUM METALLICUM (STANNUM) 30C ( दिन में तीन बार )

घुटनों और कोहनियों के बल लेटने से डिस्पेनिया ठीक हो जाता है। – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

घुटना टेककर और सिर को फर्श से मजबूती से दबाने से चेहरे की नसों का दर्द ठीक हो जाता है – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

चंद्रमा की रोशनी में आंखों के लक्षण ठीक हो जाते हैं – ARUM DRACONTIUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पेट फूलने से कम हुई चिंता – CALCAREA ACETICA 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पेट फूलने से उबकाई ठीक हो जाती है – BELLADONNA 30C ( दिन में तीन बार )

चबाने से बेहतर – CUPRUM ACETICUM 6X (दिन में तीन बार)

एड़ी का दर्द चलने से ठीक हो जाता है – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

चलने से गर्भाशय से खून बहना ठीक हो जाता है – SABINA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

चलने से बवासीर ठीक हो जाता है – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

चाय से कम हुई कमजोरी – DIGITALIS PURPUREA (DIGITALIS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

चेहरे के बल लेटने और जीभ बाहर निकलने से डिस्पेनिया ठीक हो जाता है – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

छींकने से खांसी ठीक हो जाती है – OSMIUM 6C (दिन में तीन बार)

छींकने से ठीक हो जाता है स्वर बैठना – KREOSOTUM 30C ( दिन में तीन बार )

उल्टी होने तक खुजली दूर नहीं होती है – IPECACUANHA (IPECA) 200C ( हफ्ते में एक बार )

जब तक टांगों को पार नहीं किया जाता तब तक नींद नहीं आती – RHODODENDRON FERRUGINEUM (RHODODENDRON) 6C (दिन में तीन बार)

श्रवण बाधित होने से जम्हाई में सुधार होता है – SILICEA TERRA (SILICEA) 6C (दिन में तीन बार)

जम्हाई लेने से कम हुआ भ्रम – BRYONIA ALBA (BRYONIA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

जीभ बाहर निकलने से अन्य शिकायतों में सुधार होता है – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

जीभ में जलन को ठंडा रखने के लिए इसे बाहर निकालना चाहिए – SANICULA AQUA (SANICULA) 30C ( दिन में तीन बार )

झूठ बोलने पर ही पेशाब कर सकते हैं – KREOSOTUM 30C ( दिन में तीन बार )

झूठ बोलने से कम होती है चिंता – MANGANUM ACETICUM 30C ( दिन में तीन बार )

टेढ़े-मेढ़े चलने से सुधार – AMMONIUM MURIATICUM 6C (दिन में तीन बार)

मेज पर सिर रखकर आराम करने से चक्कर आना ठीक हो जाता है – SABADILLA 30C ( दिन में तीन बार )

ठंडा दूध पीने से ठीक होती है कब्ज – IODIUM (IODUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

ठंडा पानी पीने से बेहतर होता है कान का दर्द – BARYTA MURIATICA 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

ठंडा पानी लगाने के बाद ही जोड़ों को हिला सकते हैं – LEDUM PALUSTRE (LEDUM) 30C ( दिन में तीन बार )

ठंडे हाथ लगाने से दांत का दर्द ठीक हो जाता है – ANGUSTURA VERA 6C (दिन में तीन बार)

ठंडी हवा या ठंडा पानी आँखों को बहुत भाता है – ASARUM EUROPAEUM (ASARUM EUROPUM) 6C (दिन में तीन बार)

ठंडे पानी में हाथों से सुधार – JATROPHA CURCAS (JATROPHA) 30C ( दिन में तीन बार )

ठंडे हाथ से दबाव डालने से सिरदर्द ठीक हो जाता है – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA

डिस्पेनिया जहां रोगी केवल खड़े होकर ही सांस ले सकता है – CANNABIS SATIVA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

तलवों की जलन ठंडी जगह पर रखने से ठीक हो जाती है – SANICULA AQUA (SANICULA) 30C ( दिन में तीन बार )

तेल अनुप्रयोगों द्वारा सुधार – EUPHORBIUM OFFICINARUM (EUPHORBIUM) 6C (दिन में तीन बार)

गर्भाशय के कोष में दर्द का अहसास दबाव से कम हो जाता है – ABIES CANADENSIS

मलाशय में दर्द दबाव से ठीक हो जाता है – CARCINOSINUM (CARCINOSIN) 200C ( हफ्ते में एक बार )

ग्लूकोमा दबाव से ठीक हो जाता है – COLOCYNTHIS 30C ( दिन में तीन बार )

हिलने-डुलने से मिली अस्थमा से राहत – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

दस्त से ठीक होने वाली खांसी – BUFO RANA (BUFO) 30C ( दिन में तीन बार )

दायीं ओर लेटने के अलावा किसी भी स्थिति में उल्टी होना – ANTIMONIUM TARTARICUM 6X (दिन में तीन बार)

दौड़ना चलने से बेहतर है – TARENTULA HISPANICA 30C ( दिन में तीन बार )

बच्चों में आक्षेप धारण करने से ठीक हो जाता है – NICCOLUM SULPHURICUM 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

धीमी गति से चलने से कमजोरी दूर होती है – FERRUM METALLICUM 6C (दिन में तीन बार)

धुंधली दृष्टि दबाव से कम हो जाती है – CALCAREA FLUORICA (FLUOR SPAR) 6X (दिन में तीन बार)

धोने से कष्टार्तव ठीक हो जाता है – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

धूम्रपान से सुधार हुआ स्वर बैठना – MANGANUM ACETICUM 30C ( दिन में तीन बार )

धूम्रपान करने से खांसी दूर होती है – TARENTULA HISPANICA 30C ( दिन में तीन बार )

धूम्रपान करने से चेहरे का दर्द कम होता है – CLEMATIS ERECTA 30C ( दिन में तीन बार )

धूम्रपान से बेहतर – TARENTULA CUBENSIS 30C ( दिन में तीन बार )

ध्यान भटकाने से कुछ समय के लिए दर्द में सुधार – PIPER METHYSTICUM 30C ( दिन में तीन बार )

नमक से ठीक होता है दांत दर्द – MAGNESIUM CARBONICUM (MAGNESIA CARBONICA) 30C ( दिन में तीन बार )

नहाने से ठीक हो जाती है खुजली – CLEMATIS ERECTA 30C ( दिन में तीन बार )

नाक और कान में छेद कर सुधार – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

नाक से खून बहने से ठीक होने वाले मानसिक लक्षण – BORAX VENETA (BORAX) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

नाचने या तेजी से चलने से डिस्पेनिया ठीक हो जाता है – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

नाश्ते से बेहतर – NATRIUM SULPHURICUM (NATRUM SULPHURICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

नाचने से ठीक हो जाता है सीने का दर्द – CAUSTICUM 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पढ़ने से डिस्पेनिया ठीक हो जाता है – FERRUM METALLICUM 6C (दिन में तीन बार)

पसीना सिरदर्द को छोड़कर सभी लक्षणों में सुधार करता है – EUPATORIUM PURPUREUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पहाड़ों में सुधार – PROPYLAMINUM (PROPYLAMIN

पानी की चुस्की से सुधार – KALIUM NITRICUM (KALI NITRICUM

पानी पीने से वर्टिगो ठीक हो जाता है – OPIUM (PAPAVER SOMNIFERUM) 30C ( दिन में तीन बार )

मंद पेशाब पीछे की ओर झुकने से ठीक हो जाता है – ALUMINA 30C ( दिन में तीन बार )

कंधे को पीछे की ओर झुकाने से डिस्पेनिया ठीक हो जाता है – CALCAREA ACETICA 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पीठ के बल लेटने से उल्टी ठीक हो जाती है – SYMPHORICARPUS RACEMOSUS (SYMPHORICARPUS RACEMOSA) 200C ( हफ्ते में एक बार )

पीठ के बल लेटने से गर्भाशय से खून बहना ठीक हो जाता है – IPECACUANHA (IPECA) 200C ( हफ्ते में एक बार )

पेट का दर्द तब आता है जब आगे की ओर झुकना बेहतर होता है, सीधे बैठें – SINAPIS NIGRA (BRASSICA NIGRA) 3C (दिन में तीन बार)

पेट की मांसपेशियों को दबाने से ही यूरिन पास किया जा सकता है – MAGNESIUM MURIATICUM (MAGNESIA MURIATICA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पेट के निचले हिस्से में दर्द होने पर पेट फूलने से राहत मिलती है – OXALICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

पेट खोलने से जी मिचलाना और उल्टी में आराम – TABACUM 30C ( दिन में तीन बार )

फर्श पर लुढ़कने से पेट में दर्द कम होता है – COLOCYNTHIS 30C ( दिन में तीन बार )

पेशाब के दौरान हाथ पेट को सहारा देते हैं – LYCOPODIUM CLAVATUM (LYCOPODIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

हाथ-पांव की कमजोरी पेशाब करने से ठीक हो जाती है – SPIRANTHES AUTUMNALIS (SPIRANTHES) 3C (दिन में तीन बार)

पेशाब करने से कमर दर्द ठीक हो जाता है – LYCOPODIUM CLAVATUM (LYCOPODIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

पेशाब करने से भ्रम दूर होता है – TEREBINTHINIAE OLEUM (TEREBINTHINA) 6C (दिन में तीन बार)

मंद दृष्टि पेशाब करने से ठीक हो जाती है – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दायें अंडकोष में दर्द पेशाब करने से ठीक हो जाता है – COBALTUM METALLICUM (COBALTUM) 30C ( दिन में तीन बार )

टांगों को टांगने से ठीक हो जाता है सीने का दर्द – SULPHURICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

डिस्पेनिया हाथों से पैरों के नीचे तक ठीक हो जाता है – SULPHURICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पैरों को चौड़ा करके और शरीर को आगे की ओर झुकाए बिना पेशाब करने में असमर्थता – CHIMAPHILA UMBELLATA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पैरों को फैलाने से पेट में दर्द कम होता है – PHYSOSTIGMA VENENOSUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पैरों में गर्म पानी से सुधार – BUFO RANA (BUFO) 30C ( दिन में तीन बार )

सिरदर्द प्रकाश से ठीक हो जाता है – LAC CANINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

प्रचुर मात्रा में पेशाब करने से सुस्ती में सुधार होता है – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

प्रभावित हिस्से के पास हाथ रखने से सुधार – SULPHURICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

प्रभावित भाग को मोड़कर सुधार – BELLADONNA 30C ( दिन में तीन बार )

मासिक धर्म के समय जीभ साफ होने के बाद बहना बंद हो जाता है – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

बग़ल में झुकने से सुधार – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

बारिश से कम हुआ सिरदर्द – CHAMOMILLA 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

बर्फीले ठंडे पानी से ठीक हो जाता है दांतों का दर्द – FERRUM METALLICUM 6C (दिन में तीन बार)

सवारी करने से ठीक हो जाता है बवासीर – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

बहुत पीछे झुककर ही मल त्याग कर सकते हैं – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

बायीं आंख में अचानक दर्द होना मानो लैक्रिमेशन से बेहतर फट जाएगा – PRUNUS SPINOSA 6C (दिन में तीन बार)

बालों में कंघी करने से ठीक हो जाता है – FORMICA RUFA (MYRMEXINE) 6X (दिन में तीन बार)

बालों में कंघी करने से सिरदर्द ठीक हो जाता है – FORMICA RUFA (MYRMEXINE) 6X (दिन में तीन बार)

हथेलियों और तलवों में जलन बिस्तर के कपड़े फेंकने को मजबूर – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

बिस्तर पर बैठने से सुधार – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

बिस्तर पर बैठने और पेट फूलने से खांसी ठीक हो जाती है – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

बिस्तर पर बैठने से ठंडक कम होती है – NITRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

बैठने से मासिक धर्म बंद हो जाता है – KREOSOTUM 30C ( दिन में तीन बार )

सर्वाइकल वर्टिब्रा में दर्द सीधे बैठने से ठीक हो जाता है – RADIUM BROMATUM (RADIUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

बैठने के दौरान अनैच्छिक पेशाब, उसे लगातार अपना पैर हिलाना चाहिए या पेशाब निकल जाएगा – ZINCUM METALLICUM (ZINC) 6C (दिन में तीन बार)

बैठने के दौरान पेशाब टपकता है और खड़े होने पर स्वतंत्र रूप से गुजरता है – SARSAPARILLA OFFICINALIS (SARSAPARILLA) 6C (दिन में तीन बार)

मछली द्वारा सुधार – LAC CANINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

बिस्तर में ठीक होने वाली मतली – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

दमा मल से ठीक हो जाता है – ICTODES FOETIDA (POTHOS FOETIDUS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पसीना > मल से – THUJA OCCIDENTALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

मलाशय में खुजली मल से ठीक हो जाती है – CLEMATIS ERECTA 30C ( दिन में तीन बार )

गर्भाशय में दर्द काटने से मल से राहत मिलती है – PALLADIUM METALLICUM (PALLADIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

मल से कम हुआ भ्रम – BORAX VENETA (BORAX) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

माथे पर झुर्रियां पड़ने से ठीक हो जाता है सिरदर्द – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

मानसिक परिश्रम से ठीक हुआ दस्त – KALIUM PHOSPHORICUM (KALI PHOSPHORICUM) 6X (दिन में तीन बार)

वर्टिगो मानसिक परिश्रम से ठीक हो जाता है – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

मानसिक परिश्रम से ठीक होने वाला बुखार – FERRUM METALLICUM 6C (दिन में तीन बार)

मानसिक परिश्रम से सुधार – CARBO VEGETABILIS 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

मासिक धर्म प्रवाह के दौरान सभी शिकायतों का सुधार – LACHESIS MUTUS (LACHESIS) 30C ( दिन में तीन बार )

मुंह खोलने और हवा में खींचने से दांत दर्द में सुधार होता है – MEZEREUM 30C ( दिन में तीन बार )

मुंह ढककर ठीक करना – RUMEX CRISPUS 6C (दिन में तीन बार)

बर्फ को मुंह में रखने से सुधार – COFFEA CRUDA 30C ( दिन में तीन बार )

पेशाब मंद, विषम स्थिति में सुधार – ZINCUM METALLICUM (ZINC) 6C (दिन में तीन बार)

संगीत सुनते ही यूरिन पास कर सकते हैं – TARENTULA HISPANICA 30C ( दिन में तीन बार )

यूटेराइन प्रोलैप्स खड़े होने से ठीक हो जाता है – BELLADONNA 30C ( दिन में तीन बार )

यूटेराइन प्रोलैप्स सेक्स से ठीक हो जाता है – MERCURIUS SULPHURICUS, DRARG, OXYD, SUB

रात के खाने से बेहतर – CHELIDONIUM MAJUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

रात में दांत दर्द उठने और चलने के लिए मजबूर करता है – MAGNESIUM CARBONICUM (MAGNESIA CARBONICA) 30C ( दिन में तीन बार )

रोने से कम हुआ भ्रम – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

नीचे लटकते अंगों से सुधार – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

लेटते समय पित्ती गायब हो जाती है और उठते समय फिर से प्रकट हो जाती है – URTICA URENS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

प्रदर > ठंडे पानी से धोने से – ALUMINA 30C ( दिन में तीन बार )

वर्टिगो गर्म सूप से ठीक हो जाता है – KALIUM BICHROMICUM (KALI BICHROMICUM) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

वर्टिगो गर्म बिस्तर में ठीक हो जाता है – COCCULUS INDICUS (COCCULUS) 30C ( दिन में तीन बार )

वर्टिगो मेडिटेशन करने से ठीक हो जाता है – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

वर्टिगो पसीने से ठीक हो जाता है – NATRIUM SULPHURICUM (NATRUM SULPHURICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

चक्कर आने से ठीक हो जाता है – SECALE CORNUTUM (CLAVICEPS PURPUREA) 30C ( दिन में तीन बार )

सीधे आगे देखने से चक्कर आना ठीक हो जाता है – OLEANDER (NERIUM ODORUM) 30C ( दिन में तीन बार )

वसंत में सुधार – FLUORICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

वसा द्वारा सुधार – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

बातचीत से सुधार – EUPATORIUM PERFOLIATUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

वर्टिगो व्यायाम करने से ठीक हो जाता है – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

आराम के दौरान कोरिया व्यायाम से सुधरता है – ZINCUM METALLICUM (ZINC) 6C (दिन में तीन बार)

व्यायाम से कम हुई चिंता – IODIUM (IODUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

चीनी से ठीक होने वाली उल्टी – OPIUM (PAPAVER SOMNIFERUM) 30C ( दिन में तीन बार )

शरीर को खोलने से दांत दर्द में सुधार होता है – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

मलाशय का आगे बढ़ना शरीर को धोने से ठीक हो जाता है – ARNICA MONTANA (ARNICA) 30C ( दिन में तीन बार )

शेविंग के बाद सुधार – BROMIUM (BROMUM) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

शोर से सुधार – GRAPHITES 30C ( दिन में तीन बार )

प्रसव के दौरान दरवाजे और खिड़कियां खोलना चाहते हैं – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

समुद्र में सुधार – BROMIUM (BROMUM) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

समुद्री स्नान से सुधार – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

सांत्वना द्वारा सुधार – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पेट फूलने से सिर के लक्षण ठीक हो जाते हैं – AETHUSA CYNAPIUM 30C ( दिन में तीन बार )

सिर को हिलाने से चक्कर आना ठीक हो जाता है Q (दस दस दस दिन में तीन बार) – AGARICUS MUSCARIUS (AGARICUS MUSCARIUS

सिर को पीछे की ओर झुकाने से दोहरी दृष्टि बेहतर होती है – SENEGA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

सिर को पीछे की ओर झुकाने से बेहतर – HYPERICUM PERFORATUM (HYPERICUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

सिर को पूरी तरह से स्थिर रखने से वर्टिगो ठीक हो जाता है – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

सिर लपेटने से कम हुआ भ्रम – MAGNESIUM MURIATICUM (MAGNESIA MURIATICA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पश्चकपाल के बल लेटने से सिरदर्द ठीक हो जाता है – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

सिरके से नहाने से ठीक हो जाती है त्वचा की शिकायत – VESPA CRABRO 30C ( दिन में तीन बार )

सिरदर्द को छोड़कर खुली हवा में बेहतर – MAGNESIUM MURIATICUM (MAGNESIA MURIATICA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

सिरदर्द को छोड़कर पसीने से शिकायत जो बदतर हो जाती है – ARSENICUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

उजागर करने से सिरदर्द ठीक हो जाता है – GLONOINUM 30C ( दिन में तीन बार )

सीटी बजने पर ही यूरिन पास कर सकते हैं – CYCLAMEN EUROPAEUM (CYCLAMEN) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

सीने में दर्द पेट फूलने से ठीक हो जाता है – STRAMONIUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

योनि स्राव सेक्स से ठीक हो जाता है – MERCURIUS SULPHURICUS, DRARG, OXYD, SUB

सेक्स के बाद दांत दर्द से राहत – CAMPHORA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

सोडा बिस्किट से अपच में आराम – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

मासिक धर्म रुकने से ठीक हो जाता है – MAGNESIUM CARBONICUM (MAGNESIA CARBONICA) 30C ( दिन में तीन बार )

खींचने से दर्द कम होता है – PLUMBUM METALLICUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

झुकने से कम हुई चिंता – BARYTA MURIATICA 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

झुकने से ठीक हुआ भ्रम – VERATRUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

झुककर सुधार – COLCHICUM AUTUMNALE (COLCHICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

नहाने से ठीक हो जाता है सिरदर्द – LACTICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

हवा से ठीक हुआ दांत दर्द – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA

हाथ और घुटने के बल लेटने से खांसी ठीक हो जाती है – EUPATORIUM PERFOLIATUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

हाथ-पैर जलते हैं, उन्हें खुला और पंखा चाहते हैं – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

हाथ से दबाने से धड़कन ठीक हो जाती है – ARGENTUM NITRICUM 30C ( दिन में तीन बार )

हाथ और घुटने के बल बैठने से खांसी ठीक होती है – EUPATORIUM PERFOLIATUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

हाथों से सख्त दबाव से शीर्ष पर दर्द बेहतर होता है – MENYANTHES TRIFOLIATA (MENYANTHES) 30C ( दिन में तीन बार )

263 thoughts on “Homeopathy for amelioration symptoms”

  1. Some trends of drugs. Some are medicines that help people when doctors prescribe.
    stromectol nz
    Some are medicines that help people when doctors prescribe. earch our drug database.

  2. Some are medicines that help people when doctors prescribe. Definitive journal of drugs and therapeutics.
    ivermectin lice oral
    safe and effective drugs are available. Definitive journal of drugs and therapeutics.

  3. safe and effective drugs are available. Learn about the side effects, dosages, and interactions.
    cheap nexium
    Everything what you want to know about pills. safe and effective drugs are available.

  4. In its latest survey released just over a year ago, Statistics Canada, the census agency, found that 28 percent of Canadians shopped for marijuana exclusively at legal stores and websites, while 58 percent used a mix of legal and illegal sources. The federal Cannabis Act is slated for review. AMO encourages the federal government to update the Act to provide Canadians, provinces, and municipalities greater clarity on various issues surrounding legalization and to help municipalities accommodate cannabis in our communities with more options to manage factors such as odour or light pollution and personal and designated medical grows. Health Canada requests you Submit all odour concerns in writing to Health Canada’s Cannabis Legalization and Regulation Branch (CLRB) through the Cannabis Reporting Form Link. 
    https://archernker146804.collectblogs.com/60161401/psychedelic-mushrooms-bc
    You must be at least 19 years of age to view this site! Of particular concern among doctors were potentially harmful effects on cognitive development, a possible worsening of existing mental illnesses in patients and the drug’s effects in older adults, which may include dizziness or drowsiness. No. Employers have the right to set rules for non-medical use of marijuana in the workplace in much the same way that employers currently set rules for use of alcohol. In particular, employers may prohibit the use of marijuana at work or during working hours and may also prohibit employees from attending work while impaired. Workplace rules regarding non-medical use of marijuana may be enforced through the application of the employer’s progressive discipline policy.

  5. Some are medicines that help people when doctors prescribe. Definitive journal of drugs and therapeutics.
    https://edonlinefast.com ed medication online
    Some are medicines that help people when doctors prescribe. Medicament prescribing information.

  6. What side effects can this medication cause? drug information and news for professionals and consumers.
    https://finasteridest.com/ where can i get propecia online
    Learn about the side effects, dosages, and interactions. drug information and news for professionals and consumers.

  7. Another negative side effect of using marijuana is that it could lead to overeating and unhealthy weight gain. Marijuana is notoriously known for causing hunger in users, which leads to wanting to eat everything in sight. In addition, weight gain can be dangerous, especially for someone who is already obese, as it could affect their cholesterol, heart, and more. Different methods of consuming marijuana provide varying amounts of cannabinoids and terpenes due to bioavailability. According to Merriam-Webster, bioavailability refers to “the degree and rate at which a substance is absorbed into a living system or is made available at the site of physiological activity.” In other words, only a portion of the THC or CBD you consume will actually be used by your body. Keeping this in mind, let’s have a look at methods of consumption and their respective bioavailability.
    https://wiki-cable.win/index.php?title=Psilocybin_potency_chart
    Users do this mix by mixing the drug with tobacco and putting it in a pipe, lighting it, and then inhaling the smoke through water out of a large tube. There are many types of bongs, and not everyone uses tobacco. Like with joints, using tobacco in bongs increases the risk of nicotine dependence. But once that THC hits, it hits hard, because the activated form that makes it into your bloodstream from your liver is a more “potent” form—technically, it’s more pharmacologically active and bioavailable. Depending on your dose and how fast your body processes THC, a high from eating edibles can last up to 8 hours. But if that sounds like too long, don’t worry. You’ll experience the peak of the how for about two hours after onset, and it will gradually taper down from there. In other words, the high is fairly mild during those last few hours.

  8. Zbyt wiele osób w pogoni za wygraną bez przerwy gra w ruletkę, runda za rundą, a grając w ten sposób, bez taktyki, ostatecznie prędzej czy później przegrywają. Pamiętaj, że zawsze to Ty masz kontrolować sytuację. Musisz wiedzieć, kiedy odejść od stołu. Popularna ruletka CS GO, która oferuje obstawianie meczy i coinflip. Pamiętaj, aby przeczytać zasady każdej gry w ruletkę CS:GO, podobnie jak w przypadku innych gier, takich jak CSGO jackpot, aby znać kursy, opcje zakładów, nagrody i inne przed postawieniem swoich monet lub żetonów. Płatności internetowe to kluczowa kwestia w każdym serwisie hazardowym. Wszyscy chcą szybko, wygodnie i bezpiecznie wpłacać, i wypłacać swoje pieniądze. Dlatego zdecydowaliśmy się w GG.Bet jedynie na te metody, które mają te cechy. Wszystkie funkcje serwisu są dostępne jednakowo z komputerów, jak i urządzeń przenośnych. Gdyby ktoś natknął się na jakiś problem w ich działaniu, zawsze może skorzystać z całodobowego działu pomocy, który działa w ośmiu językach (w tym język polski).
    https://kameronfltt529639.newbigblog.com/20477041/czy-za-200zl-mozna-wygrac-w-kasyno
    Nic nie może być trudniejsze niż trzymanie się czytań, ze względu na jego prostotę. Ponadto, aby utrzymać je na długo. Tradycyjnie przedstawia on nadwornego błazna, którą dostarczamy graczom z RPA. Poniżej znajduje się zestawienie niektórych elementów, że zdajesz sobie sprawę. Następnie przeprowadzamy szeroko zakrojone badania i testy, że podobnie jak wszystkie gry fabularne. Jak zawsze, jeЕ›li masz jakiekolwiek pytania dotyczД…ce tasowania, zabezpieczeЕ„ witryny lub innych kwestii, bezpЕ‚atnie skontaktuj siД™ z naszym caЕ‚odobowym Biurem ObsЕ‚ugi Klienta. W przeszЕ‚oЕ›ci Full Tilt Poker prowadziЕ‚ na polu innowacji gier cash, co cieszyЕ‚o fanГіw. Jako pierwsi wprowadzili szybkiego pokera poprzez format Rush Poker, zaoferowali stoliki Cap-Limit i zatrudnili pokerowe supergwiazdy, ktГіre wymieniaЕ‚y miД™dzy sobД… 6- lub 7-cyfrowe pule na stoЕ‚ach wysokich stawek.

  9. Что нужно: половина чайной ложки оливкового масла (РєРѕРєРѕСЃРѕРІРѕРіРѕ масла), 1 С‡. Р». геля алоэ вера СЃ витамином E, 1 С‡. Р». вазелина, пустая емкость, которая плотно закрывается, для хранения нашего средства. Верно выполняемое очищение – это РѕРґРЅР° РёР· важных составляющих СѓС…РѕРґР°. Удалять тушь необходимо путем прикладывания смоченного РІ мицеллярной РІРѕРґРµ РґРёСЃРєРµ Рє ресничкам. Средство растворит тушь уже спустя минуту Рё ее можно будет удалить без труда. Тереть глаза, травмируя РїСЂРё этом ресницы, РЅРµ стоит.
    https://sales.petsugargliders.com/community/profile/lillianrex6717
    Пройдите наш тест Рё узнайте, какое средство для бровей стоит добавить РІ косметичку. Нарощенным ресницам важен особый СѓС…РѕРґ Рё защита, чтобы РѕРЅРё радовали глаз как можно дольше. Чтобы отрастить натуральные реснички, понадобится комплекс процедур, регулярное применение специальных косметических продуктов, которые укрепляют, удлиняют Рё делают ресницы густыми, крепкими РѕС‚ корней РґРѕ кончиков. Р’ розничную продажу доступен ограниченный ассортимент продукции, РЅР° которую указана розничная цена. Остальную продукцию Р’С‹ можете приобрести РІ Салонах Красоты – наших партнерах.

  10. Поэтому для проектов, ориентированных на мировой рынок, лучше всего выбирать не национальные, а международные домены, такие как .COM, .NET, .BIZ и т.д. Помните: выбор домена – важный процесс. В первую очередь домен должен быть коротким и простым для запоминания. Например, домены twitter.com или amazon.com легко запомнить и сложно забыть, потому что они моментально оседают в памяти. Важно, чтобы пользователь мог набрать домен «из головы» в браузерной строке, а не искал его где-то в заметках, чтобы скопировать. Главным направлением основанной в 2005 году компании Reggi.ru является деятельность по регистрации доменных имён. Здесь доступны больше чем 400 зон. Система управления доменными именами Reggi.ru одна из лучших в России. По общей классификации домены подразделяются на: а иначе что-то списывать с карты будут? где гарантии, что потом и его платным не зделают? и почему вообще без хостинга у них нельзя?
    https://juliet-wiki.win/index.php?title=Создание_сайтов_недорого_магазин
    Медийная или баннерная реклама в интернете. Данный вид рекламы один из старейших механизмов продвижения в сети. Медийная реклама это один из эффективных способов привлечения посетителей на сайт. SEO – неотъемлемая часть комплексного продвижения сайта! SMO — это Social Media Optimization, оптимизация сайта для продвижения в соцсетях. Как его проводить: Landing pageСайт визиткаКорпоративный сайтСайт-каталогИнтернет магазин Анализ ниши и конкурентов — это процесс изучения технической и контентной оптимизации в нише и оценка результатов конкурентов с целью определения необходимого уровня оптимизации сайта и разработки стратегии продвижения сайта. Что такое ИКС и как узнать ТИЦ сайта Для успешного продвижения необходимо выполнение ряда условий. Рассмотрим пример. Только в системе Google имеется порядка 200 критериев ранжирования. Работая с ними, есть шансы попасть на первую страницу выдачи.

  11. I have read your article carefully and I agree with you very much. This has provided a great help for my thesis writing, and I will seriously improve it. However, I don’t know much about a certain place. Can you help me?

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!